Uncategorized

बिना किसी कोचिंग के तेजस्वी राणा ने क्रैक की यूपीएससी परीक्षा, दूसरे प्रयास में बनीं IAS टॉपर

तेजस्वी राणा Crack upsc
Written by Rakesh Kumar

UPSC Success Story: हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले की रहने वाली तेजस्वी राणा ने घर पर रहकर सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी की और साल 2016 में 12वीं रैंक हासिल की.

तेजस्वी राणा Crack upsc

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन की ओर से सिविल सेवा परीक्षा 2021 का फाइनल रिजल्ट जारी हो गया. इस बार यूपीएससी परीक्षा में उत्तर प्रदेश के बिजनौर की रहने वाली श्रुति शर्मा ने टॉप किया है. टॉपर्स की लिस्ट में टॉप 4 में लड़कियों का ही नाम है. श्रुति शर्मा की तरह ही साल 2016 में यूपीएससी परीक्षा में टॉप करने वाली तेजस्वी राणा (IAS Officer Tejaswi Rana) की कहानी भी काफी प्रेरणादायक है.

देश के सबसे कठिन परीक्षा में शामिल होने के लिए तेजस्वी ने कभी किसी कोचिंग का सहारा नहीं लिया. हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले की रहने वाली आईएसएस ऑफिसर तेजस्वी राणा ने बारहवीं तक पढ़ाई करने के बाद जेईई की परीक्षा दी. तेजस्वी इंजीनियर बनना चाहती थीं. उन्हें आईआईटी कानपुर में एडमिशन मिल गया.

Motivational success story

आईआईटी कानपुर में इंजीनियरिंग की पढ़ाई के दौरान उनकी रुचि यूपीएससी परीक्षा की तरफ बढ़ी. तेजस्वी ने पहली बार 2015 में यूपीएसएस की परीक्षा दी और प्रीलिम्स क्लियर कर लिया. हालांकि, मेन्स में उन्हें सफलता नहीं मिली.

तेजस्वी राणा ने दूसरे प्रयास में सफलता हासिल कर आईएएस अधिकारी (IAS Officer) बनने का सपना पूरा किया. अपने दूसरे प्रयास में यूपीएससी में 12वीं रैंक हासिल की थी. इसकी तैयारी के लिए सबसे पहले उन्होंने अपने बेसिक क्लियर किए.

तेजस्वी ने घर पर रहकर मात्र एक साल में सिविल सर्विसेज परीक्षा की तैयारी कर 12वीं रैंक हासिल की. तेजस्वी राणा के मुताबिक, जब वो आईआईटी कानपुर में थीं तो उनके कॉलेज में अक्सर आईएएस ऑफिसर कई इवेंट पर आते थे. यहां उनकी स्पीच और फैसले लेने की क्षमता ने उन्हें बहुत अधिक प्रभावित किया. तेजस्वी ने बताया कि, पढ़ाई के लिए उन्होंने अपना एक टाइम टेबल फिक्स किया था और उसी के मुताबिक स्टडी करती थीं.

Click Here

About the author

Rakesh Kumar